World environment day 2023 | विश्व पर्यावरण दिवस क्यों मनाया जाता है ?

World Environment Day 2023 : दोस्तों आप सब सायद यह जानते होंगे की पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है लेकिन यह जानना हमारे लिए अत्यंत जरुरी है की यह दिवस क्यों मनाया जाता है और इसका तात्पर्य क्या है। पर्यावरण दिवस मनाने के पीछे क्या मकसद है पुरे विश्व का और इसे दुनिया भर में क्यों मनाया जा रहा है।

#Beat Plastic Pollution – Theme of World environment day 2023

आज इस लेख में हम पर्यावरण दिवस के बारे में बात करेंगे, पर्यावरण हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण हम सभी जानते हैं। तो चलिए आज विश्व पर्यावरण दिवस के बारे में जानते हैं और कुछ नया सीखते हैं।

पर्यावरण

जल, वायु, मिट्टी जैसे तत्व इस पर्यावरण से जुडी हैं और पर्यावरण की रक्षा इन तत्व को सुरक्षित रखने में है। इंसान और पशु-पक्षिओं की जीवन प्राकृतिक संसाधनों और स्वच्छ पर्यावरण से है। लेकिन इस प्राकृतिक संसाधनों का गलत तरीके से उपयोग और बढ़ती ावादी से प्रदूषण का बढ़ना, पर्यावरण को नष्ट करते जा रहा है।

>27 Best Paryavaran Slogan in Hindi

>भारत का सबसे स्वच्छ शहर

Wikipedia के अनुसार पर्यावरण शब्द का निर्माण दो शब्दों से मिल कर हुआ है। “परि” जो हमारे चारों ओर है”आवरण” जो हमें चारों ओर से घेरे हुए है,अर्थात पर्यावरण का शाब्दिक अर्थ होता है चारों ओर से घेरे हुए।

हमारे चारो और प्राकृतिक संसाधनों का भंडार है और प्रकृति से मिले इन संसाधनों का उपयोग हमारे जीवन के लिए किया जा रहा है। ठीक वैसे ही वायु मंडल में अनेक परत हैं, जिनमे ओजोन परत एक मुख्य परत के रूप में हमे सूर्य से आनेवाले हानिकारक किरणों से रक्षा कर रहा है। लेकिन इंसानो द्वारा प्राकृतिक संसाधनों को नष्ट करना उन्हें दूषित करना जैसे किये गए गलत क्रिया कलाप से पर्यावरण को हानि पहुँच रहा है और इसका सीधा असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ रहा है।

विश्व पर्यावरण दिवस

पर्यावरण के बढ़ते खतरे को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने पर्यावरण के प्रति वैश्विक स्तर पर जागरूकता और पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण लाने के लिए वर्ष 1972 में विश्व पर्यावरण दिवस मानाने घोषणा की थी। इस घोषणा के बाद 5 जून 1973 को पहला विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया और हर साल इस दिन को हम पर्यावरण दिवस के रूप में मानते आ रहे हैं।

इस साल 49 वें विश्व पर्यावरण दिवस हम मानाने जा रहें हैं, लेकिन आज भी हम पर्यावरणीय समस्याओं का सामना कर रहे हैं। भारत में वर्ष 2021 की थीम था ‘बेहतर पर्यावरण के लिये जैव ईंधन को बढ़ावा देना’।

World environment day 2023 Theme

विश्व पर्यावरण दिवस 2023 की थीम है ”#Beat Plastic Pollution”.

पर्यावरण दिवस का महत्व

हर साल बढ़ते तापमान और प्रदूषण की समस्या से हम अनजान नहीं हैं, लेकिन इस समस्या का समाधान हम न ही ढूंढ़ते हैं न ही सरकार द्वारा पर्यावरण के प्रति बनाये गए नियमो का पालन करते हैं। कारण यही है की पर्यावरणीय समस्या से हम कई सालों से सामना करते आ रहे हैं। पर्यावरण दिवस का मकसद दुनिया भर में हर एक व्यक्ति को जागरूक कराना है, जिससे पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण की जा सके।

पर्यावरण दिवस की शुरुआत कैसे हुई ?

विकिपीडिया के एक पोस्ट पर पर्यावरण दिवस की इतिहास में यह लिखा गया है की, वर्ष 1972 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा मानव पर्यावरण विषय पर संयुक्त राष्ट्र महासभा का आयोजन किया गया था। इसी चर्चा के दौरान विश्व पर्यावरण दिवस का सुझाव भी दिया गया और इसके दो साल बाद, 5 जून 1974 से इसे मनाना भी शुरू कर दिया गया।

FAQ

Q- World Environment Day 2021 की थीम क्या थी ?

Ans- “पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली” विश्व पर्यावरण दिवस की 2021 की थीम थी।

Q- कब मनाया जाता है विश्व पर्यावरण दिवस ?

Ans- हर साल 5 जून को मनाया जाता है विश्व पर्यावरण दिवस।

Q- सबसे पहले किस देश में मनाया गया था पर्यावरण दिवस ?

Ans- सबसे पहले स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में मनाया गया।

Q- विश्व पर्यावरण दिवस 2022 की थीम क्या थी ?

A- विश्व पर्यावरण दिवस 2022 की थीम है ”Only One Earth” (केवल एक पृथ्वी)

Leave a Comment